BREAKING!
  • सा रे ग म संगीत समूह: मोहम्मद रफी साहब की याद में स्वरांजलि कार्यक्रम किया गया
  • अखिल भारतीय माहौर ग्वाररे वैश्य महासभा की कार्यकारिणी का दायित्व ग्रहण समारोह संपन्न
  • JCI ग्वालियर का ट्रेनिंग प्रोग्राम एक और एक ग्यारह का आयोजन किया गया
  • कर्मचारी आवास कॉलोनी में रोपे पौधे
  • सिफारिशी पत्रों की जांच ने रोकी लिस्ट
  • एल.एन.आई.पी.ई. में मनाया जायेगा आजादी का सात दिवसीय अमृत महोत्सव
  • मध्यप्रदेश में अब घर बैठे बनेंगे ऑनलाइन लर्निंग ड्रायविंग लायसेंस
  • गौमाता की आवाज हमेशा उठाते रहेंगे, हमले पर चुप नहीं बैठेगे : मिर्ची बाबा
  • लोकायुक्त ट्रेप कार्रवाई : रिश्वत लेते सी एम एच ओ का लिपिक दबोचा
  • बेटा-बेटी की तरह करें पौधों की देखभाल - ऊर्जा मंत्री तोमर

Sandhyadesh

ताका-झांकी

क्षेत्र और समर्थकों की हालत देख दादा फिर सक्रिय

20-Mar-21 842
Sandhyadesh

अपने बजरंगी दादा अपने क्षेत्र और समर्थकों की खातिर फिर अपने विधानसभा क्षेत्र में एकाएक सक्रिय हो गये हैं। महाराष्ट्र के संगठन सह प्रभारी की जिम्मेदारी बखूबी संम्हालने के साथ ही साथ अपने ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में सतत संपर्क में बने हुये हैं। उन्होंने बीते दिवस एक बडा धार्मिक आयोजन कर संदेश भी दिया है कि उनकी आवाज और भी ज्यादा वजूद में हैं। 
ज्ञातव्य है कि दादा समर्थक भाजपाई पिछले कुछ समय से शांत थे, वह क्षेत्र में अपने समर्थकों व कार्यकर्ताओं को उपेक्षा से बेहद परेशान हैं, क्योंकि उन पर नये मंत्री जी दादा समर्थक होने के कारण विश्वास नहीं कर पा रहे है। अब दादा समर्थक जायें तो कहां जायें। इसी कारण दादा समर्थकों ने अपनी पीडा दादा को बताई तो दादा अब सहानुभूति से उनकी पीडा पर मरहम लगाने के लिये क्षेत्र में सक्रिय हो गये हैं। 
बजरंगी दादा की सक्रियता से पार्टी के दूसरे मंत्री खेमा में हलचल मच गई है। दादा हर छोटे बडे कार्यक्रम में उपस्थिति दर्ज करा करे हैं। अपने सेवापथ पर आने वाले लोगों को भी भरपूर तबज्जो दे रहे हैं। दादा के इस रवैये से अलग खेमों के भी लोग दादा से अन्य खेमों के भी लोग दादा से निकटता बढाने में लग गये हैं। 
सूत्रों की मानें तो वैसे दादा अब पूर्व के लिये भी सटीक बैठते हैं। पूर्व हारने के बाद भाजपा के पास प्रत्याशी नहीं है, इसीलिये पार्टी दादा को भी यहां आगे बढा सकती है। हालांकि अब दादा में महाराष्ट्र में सह प्रभारी बनने के बाद और वहां पार्टी मेें नई जान फूंकने के बाद गजब की कान्फीडेंस देखा जा सकता है। 

Popular Posts