BREAKING!
  • मतदान से पूर्व दो मंत्री पूर्व मंत्री हो जायेंगे, इस्तीफा देना होगा
  • सिंधिया की भाजपाई स्टाइल से दिग्गज भाजपाई भौंचक्के, नींद उड़ी
  • सोनागिर सिद्ध क्षेत्र पर विराट अहिंसा रैली एवं मुनिश्री के केशलोच समारोह 4 अक्तूबर को
  • रोजगार मूलक शिक्षा पद्धति से दूर होगी बेरोजगारी - प्रो डा भरत शरण सिंह
  • प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा से रामलाल रौतेल ने की सौजन्य भेंट, प्रदेश की परिस्थितियों पर की चर्चा
  • गांधी जयंती पर स्काउट की सर्वधर्म प्रार्थना सभा होगी
  • महात्मा गाँधी जयंती पर समाजवादी पार्टी का मौन सत्याग्रह
  • भारतीय मजदूर संघ ने राकेश चतुर्वेदी को दी श्रद्धांजलि
  • हिन्दू नेताओं की सीबीआई की अदालत से बरी होना असत्य पर सत्य की जीत : भदौरिया
  • पवैया के दोष मुक्त होने पर खुशी, अभिनंदन होगा

Sandhyadesh

ताका-झांकी

कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय की मिसाल ,कोरोना सेंटर के साथ , अन्य बीमारियों का उपचार भी

11-Aug-20 230
Sandhyadesh

ग्वालियर। कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय ग्वालियर में कोरोना उपचार में ऐसा सफलतम केन्द्र के रूप में उभरकर सामने आया है, जहां कोरोना मरीजों के साथ ही आज भी अन्य बीमारियों का इलाज भी किया जा रहा है। हालांकि कोरोना के लिये अलग से ब्लॉक बनाया गया है। अभी यहां फिलहाल कोरोना के 40 मरीज भर्ती हैं, जिनका उपचार चल रहा है। 
हम बात कर रहे हैं, तानसेन रोड स्थित बीमा चिकित्सालय की। जहां आजकल कोरोना के मरीज अपनी प्राथमिकता में यहां की व्यवस्थाओं से प्रभावित होकर आ रहे हैं। विशेष बात यह है कि यह कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय पिछले साल बेहद जर्जर अवस्था में था और यहां सामान्य बीमारियों के मरीज भी आने से बचते थे, लेकिन जब से डॉ. सी एस जायसवाल ने चिकित्सालय अधीक्षक का कामकाज संम्हाला है , तभी से यहां की व्यवस्थाएं चाकी चौबंद हो गई है। चिकित्सालय ने एक आधुनिक चिकित्सा केन्द्र का स्थान ले लिया है। 
कर्मचारी राज्य बीमा स्वास्थ्य सेवाओं के डायरेक्टर डॉ. बीएल बंगेरिया के निर्देशन में मध्यप्रदेश का यह ग्वालियर अस्पताल आज कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालयों में प्रदेश मेें सर्वश्रेष्ठ हो गया है। यहां कोरोना उपचार के लिये 40 पलंगों वाले २ वार्ड हैं, जिसका ब्लॉक अलग कर दिया है। अधीक्षक डॉ. सी एस जायसवाल बताते हैं कि हम अपने विभिन्न फैक्ट्रियों व कामगार श्रमिकों के उपचार की व्यवस्था अलग से मुख्य बिल्डिंग में जारी रखे हैं, जहां उनका उपचार से लेकर अल्ट्रासाउंड , एक्सरे, पैथोलॉजी तक अलग से चालू है। 
कोरोना उपचार के लिये पीपीई किट से लेकर अन्य सभी आवश्यक उपकरणों की व्यवस्था की गई है। वहीं चिकित्कों व अन्य स्टॉफ लगाया गया है। इसके लिये जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी समय समय पर निरीक्षण करते रहते हैं। 
कालोनी के रहवासी परेशान
कोरोना उपचार का सेंटर बनने से कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय तानसेन रोड परिसर मेें रहने वाले अधिकारी , कर्मचारी व उनके परिजनों में भय व्याप्त है। उन्हें डर है कि यह कोरोना कहीं परिसर के रहवासी क्षेत्र में न फैल जाये। 
हमारी व्यवस्थाएं चाक चौबंद : डॉ. जायसवाल Sandhyadesh
कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय के अधीक्षक डॉ. सीएस जायसवाल के अनुसार हमारे चिकित्सालय की व्यवस्थाएं बेहतर हैं। साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा है। कोविड-१९ सेंटर में भर्ती मरीजों का ब्लॉक सहित पूरे परिसर को सेनेटाइज्ड किया जाता है, और चिकित्सालय के डाक्टर अन्य बीमारियों के नियमित आने वाले मरीजों का भी उपचार कर रहे हैं। 

Popular Posts