BREAKING!
  • कमिश्रर - प्रशासक में क्या बन नहीं रही
  • नेताजी क्या करेंगे.....
  • भूल सुधारी सांसद जी ने
  • काउंसलिंग बाल सरंक्षण औऱ पुनर्वास का निर्णायक तत्व है: शिवानी सरकार
  • निधि शर्मा करैरा शिवपुरी विधानसभा की प्रभारी बनी
  • मप्र डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसियेशन कर्मचारी विरोधी नीतियों को लेकर चार सितंबर को ज्ञापन सौंपेंगा
  • संस्कार मंजरी ने ऑनलाइन मेरा कान्हा मेरी राधा प्रतियोगिता का आयोजन किया
  • अब रामू तोमर भी शहीद कारसेवक के घर पहुंचे
  • संजू के लिये मिर्ची बाबा का गोहद में डेरा
  • नेताजी भोग रहे मंत्री पद का जलवा

Sandhyadesh

आज की खबर

स्मार्ट सिटी परियोजना से शहरवासियों को जोड़ा जाए: सांसद शेजवलकर

10-Jul-20 42
Sandhyadesh

स्मार्ट सिटी एडवाइजरी फोरम की बैठक सम्पन्न 
ग्वालियर. स्मार्ट सिटी परियोजना से शहरवासियों को जोड़ा जाए। शहर के बुद्धिजीवियों से स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत सुझाव लिए जाए। समाज के विभिन्न वर्गों के साथ संवाद कार्यक्रम कर स्मार्ट सिटी के कार्यों को गति प्रदान की जाए। स्मार्ट सिटी के तहत एबीडी क्षेत्र के बाहर किस तरह से विकास कार्य संभव हो सकते हैं। इसका प्रस्ताव तैयार किया जाए। यह बात क्षेत्रीय सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर ने स्मार्ट सिटी एडवाइजरी फोरम की बैठक में कही।
बैठक में कलेक्टर श्री कौशलेंद्र विक्रम सिंह निगम आयुक्त श्री संदीप माकिन, पुलिस अधीक्षक श्री नवनीत भसीन सहित एडवाइजरी कमेटी के सदस्य, सीईओ स्मार्ट सिटी श्रीमती जयति सिंह, एडवायजरी कमेटी के सदस्य सर्वश्री विजय गोयल, राजेन्द्र सेठ, रमेश पठारिया सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। 
बैठक की शुरुआत में सर्वप्रथम कोविड-19 माहौल में ग्वालियर स्मार्ट सिटी के कंट्रोल कमांड सेंटर की भूमिका के बारे में ग्वालियर स्मार्ट सिटी सीईओ श्रीमती जयति सिंह द्वारा बैठक में विस्तार से जानकारी साझा की गई। जिस पर सांसद श्री विवेक नारायण शेजवलकर नें अधिकारियो को निर्देशित किया कि शहर में काँटेक्ट ट्रेसिंग को लेकर व्यापक स्तर पर कार्य करें ताकि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। 
बैठक में कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह नें बताया कि शहर में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये व्यापक प्रबंध किये जा रहे है। काँटेक्ट ट्रेसिंग और ज्यादा से ज्यादा कोरोना सैम्पल के लिये वर्क फोर्स भी बढाया जा रहा है औऱ शहर में दूकानदारो और ठेला लगाने वालो के साथ गरीब बस्तियो में कोविड19 को लेकर लोगों को जागरुक किया जा रहा है। ताकि कोरोना सक्रमण को रोका जा सके।  
सांसद श्री शेजवलकर ने स्मार्ट सिटी परियोजना की सलाहकार समिति की बैठक की समिक्षा करते हुये कहा कि स्मार्ट सिटी के द्वारा शहर और शहर के बाहर सूत्रसेवा के तहत चलाई जा रही बसों का फायदा शहर की जनता को ज्यादा से ज्यादा मिले, वही दूसरे जिलो के रुटो पर जाने वाली बसो को भी बढाया जाये। सासंद श्री शेजवलकर नें कहाँ कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था और यातायात प्रबंधन में और क्या अच्छे सुधार हो सकते है उन्हे जल्द से जल्द किया जाये। उन्होने शहर में बने बस स्टेण्डो को लेकर निर्देशित किया कि गलत जगहो पर बने बस स्टेण्डो को हटाकर सही जगह चिन्हित कर बनाया जाये साथ ही टेम्पो स्टेण्डो को भी बनाया जाये ताकि पब्लिक ट्रांसपोर्ट सुगम हो सके। 
उन्होंने शहर में चल रहे अन्य विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि जो विकास कार्य पूर्ण हो चुके हैं, उन्हें जनप्रतिनिधियों को दिखाकर शहर की जनता को जल्द से जल्द समर्पित किए जाएं। साथ ही जो परियोजनाएं गतिशील हैं, उनका एक रोडमैप बनाकर समय-सीमा में पूर्ण किया जाए। उन्होने शहर के हृदय स्थल महाराज बाडा पर किये जा रहे विकास कार्यो को लेकर निर्देशित किया कि एबीडी क्षेत्र में ऐसे मार्केट जहाँ पर्याप्त जगह है उन मार्केट को चिन्हित कर पुननिर्माण किया जाये और उनमे पार्किंग की समुचित व्यवस्था का प्रावधान रखा जाये वही टाउन हॉल के प्रवेश द्वार पर भवभूति की प्रतिमा भी स्थापित करने के साथ ही ऐतिहासिक ईमारत के अनुरुप साईनवोर्ड लगाने को लेकर संबंधित अधिकारियो को निर्देश दिये।
नगर निगम आयुक्त श्री संदिप माकिन ने बताया कि स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत ग्वालियर में तेजी से कार्य किए जा रहे हैं। एबीडी क्षेत्र बाडे पर कार्य करने के साथ-साथ पेन सिटी के तहत एबीडी क्षेत्र के बाहर भी कार्य तेजी से किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि शहर में अमृत योजना के तहत कार्य़ किये जा रहे है जिनके पूर्ण होने पर स्मार्ट सिटी के कंट्रोल कमांड सेंटर से मोनिटरिंग की शुरुआत की जायेगी वही स्मार्ट सिटी के जीआईएस मेपिंग परियोजना को लेकर भी केन्द्र सरकार से फंड की उपलब्धता को लेकर पत्राचार किया जा रहा है जिसके मिलने पर यह महत्वपूर्ण परियोजना की शुरुआत हो सकेगी।
स्मार्ट सिटी की सीईओ श्रीमती जयति सिंह नें स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत ग्वालियर में किए जा रहे कार्यों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ग्वालियर स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत 11 मॉड्यूल्स पर 71 प्रोजेक्टों पर कार्य किया जाना है। इनमें क्षेत्र आधारित विकास, एबीडी क्षेत्र के 8 मॉड्यूल पर 58 प्रोजेक्टों तथा सम्पूर्ण शहर विकास (पेन सिटी) के तीन मॉड्यूल पर 13 प्रोजेक्टों के कार्य किए जायेंगे। परियोजना के तहत जिन क्षेत्रों में कार्य किया जाना है, उनमें हैरीटेज एवं कल्चर, मोबिलिटी, हाउसिंग, सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट, सस्टेनबिलिटी, रिक्रेशन और सोशल अपग्रेडेशन, टेक्नोलॉजी, इकोनोमिक डेवलपमेंट, इंफ्रास्ट्रक्चर एवं इंटेलिजेंट ऑपरेशंस कंट्रोल यूनिट शामिल हैं। बैठक में श्रीमती सिंह ने प्रजेण्टेशन के माध्यम से बैठक में उपस्थित सदस्यो को स्मार्ट सिटी के तहत किए जाने वाले विकास कार्यों की सिलसिलेवार रूप से जानकारी दी।
बैठक में फोरम के सदस्यों द्वारा स्मार्ट सिटी परियोजना के संबंध में आवश्यक सुझाव भी दिए गए। सुझावों पर बैठक में गंभीरता से विचार-विमर्श किया गया। 

2020-08-11aaj