BREAKING!
  • सा रे ग म संगीत समूह: मोहम्मद रफी साहब की याद में स्वरांजलि कार्यक्रम किया गया
  • अखिल भारतीय माहौर ग्वाररे वैश्य महासभा की कार्यकारिणी का दायित्व ग्रहण समारोह संपन्न
  • JCI ग्वालियर का ट्रेनिंग प्रोग्राम एक और एक ग्यारह का आयोजन किया गया
  • कर्मचारी आवास कॉलोनी में रोपे पौधे
  • सिफारिशी पत्रों की जांच ने रोकी लिस्ट
  • एल.एन.आई.पी.ई. में मनाया जायेगा आजादी का सात दिवसीय अमृत महोत्सव
  • मध्यप्रदेश में अब घर बैठे बनेंगे ऑनलाइन लर्निंग ड्रायविंग लायसेंस
  • गौमाता की आवाज हमेशा उठाते रहेंगे, हमले पर चुप नहीं बैठेगे : मिर्ची बाबा
  • लोकायुक्त ट्रेप कार्रवाई : रिश्वत लेते सी एम एच ओ का लिपिक दबोचा
  • बेटा-बेटी की तरह करें पौधों की देखभाल - ऊर्जा मंत्री तोमर

Sandhyadesh

ताका-झांकी

भाजपा गोपनीय सर्वे को लेकर चिंतित, दलबदलू 13 सीटों पर कमजोर

27-Apr-20 5836
Sandhyadesh

कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले मंत्री और विधायकों सहित भाजपा आलाकमान इन दिनों मध्यप्रदेश को लेकर बेहद हैरान है। हैरानी का कारण भाजपा द्वारा कराया गुपचुप सर्वे है, जिसमें इन 22 पूर्व विधायकों और मंत्रियों में से 13 की सीट खतरे में दिखाई पड़ रही है। इसी कारण अब भाजपा भी मंत्रिमंडल विस्तार में इन पूर्व मंत्रियों की भागीदारी पर संशय कर रही है। 
सूत्रों के मुताबिक भाजपा आलाकमान के इशारे पर एक सर्वे एजेंसी ने मध्यप्रदेश में इस्तीफा देने वाले कांग्रेस विधायकों और सरकार के उन मंत्रियों का सर्वे किया था जिस सर्वे में यह बात सामने आई तो आलाकमान भी चौंक गया है, जिसमें भाजपा के टिकट पर कांग्रेस के 13 पूर्व विधायक व मंत्रियों की हालत पतली दिखाई पड़ती है। 
बताया जाता है कि भाजपा आलाकमान इन सर्वे को लेकर चिंतित है और यही कारण है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अपने मंत्रीमंडल विस्तार में कांग्रेस के पूर्व मंत्रियों को स्थान देने में कंजूसी बरती। अन्यथा वायदे के मुताबिक इस्तीफा देने वाले सभी मंत्रियों को पुन: मंत्री बनाया जाना था। 
अब संभावना इस बात की भी बन गई है कि अब मुख्यमंत्री अपना मंत्रीमंडल विस्तार इसी कारण फिलहाल लॉक डाउन के नाम लेकर कुछ समय को टाल भी दें। 
क्रमश: 

Popular Posts